agnipath

Agnipath Scheme Protest: सेना में नई भर्ती स्कीम ‘अग्निपथ’ के खिलाफ लगातार तीसरे दिन उग्र प्रदर्शन हो रहा है. बिहार के समस्तीपुर में आज सुबह जम्मूतवी-गुवाहाटी एक्सप्रेस ट्रेन में उपद्रवियों ने आग लगा दी। ट्रेन की दो बोगियां जलकर खाख हो कि थी। यह हाजीपुर-बरौनी रेलखंड के मोहिउद्दीननगर स्टेशन की घटना है। यहां, बलिया में अग्निपथ स्कीम पर विरोध में युवाओ ने तोड़फोड़ और पथराव किया। इसकी वजह से पुलिस को चलानी पड़ी लाठी। इधर, बेगूसरार में भी विरोध प्रदर्शन शुरू हो चुका है।
बरौनी- कटिहार रेल खंड के लखमीनिया स्टेशन के रेलवे ट्रैक पर प्रदर्शनकारी आगजनी कर विरोध जता रहे हैं। आरा के कुल्हड़िया स्टेशन पर रेलवे ट्रैक जाम है. आरा स्टेशन पर कई ट्रेनें खड़ी हुई है।

Agnipath Scheme Protest: इधर, आरा के उपद्रवियों ने बिहिया स्टेशन को किया तहस नहस कर दिया और लोगों को पिटाई की.बिहिया स्टेशन के पश्चिमी रेल क्रासिंग पर अब भी भारी संख्या में उपद्रवी मौजूद हैं. एसडीपीओ और एसडीओ मौके पर पहुंचे चुके हैं।
आरा और बक्सर में सुबह से ही विरोध प्रदर्शन देखने को मिल रहा है।
अग्निपथ योजना के विरोध में बक्सर के डुमराव रेलवे स्टेशन के पश्चिम गुमटी पर अभ्यर्थियों ने सुबह 5 बजे से ही रेलवे ट्रैक टायर जलाकर प्रदर्शन कर रहे हैं।
रेल पुलिस और स्थानीय पुलिस वहां पर मौजूद हैं. इधर, अग्निपथ स्कीम के खिलाफ आरा के बिहिया रेलवे स्टेशन पर लोगों ने बवाल किया. ये सभी सेना बहाली से टीओडी हटाने की मांग कर रहे हैं. इसकी वजह से कई ट्रेनों का संचालन अलग-अलग स्टेशनों पर रोक दिया गया है.

मनरेगा में 100 दिन के रोजगार को 125 दिन करने का किया ऐलान, जानें-रजिस्ट्रेशन डिटेल

Agnipath Scheme Protest: आरजेडी ने साधा केन्द्र पर निशाना

Agnipath Scheme Protest: बिहार की मुख्य विपक्षी पार्टी राष्ट्रीय जनता दल ने राज्य में लगातार अग्निपथ स्कीम पर हो रहे विरोध के बाद केन्द्र सरकार पर निशाना साध है। आरजेडी ने ट्वीट करते हुए कहा कि अभी अग्निवीर की भर्ती शुरू भी नहीं हुई कि खुशी में अग्निवीरों ने नवादा, बिहार के भाजपा कार्यालय में “अग्नि” लगा दी।

खेदजनक! अग्निवीरों में इतनी आग है इसका अंदाजा तो “अग्निपथ” योजना के निर्माताओं को भी नहीं रहा होगा।

प्रदर्शन के बीच भर्ती की बढ़ी उम्र सीमा

Agnipath Scheme Protest: अग्निपथ पर कई राज्यों में हो रहे विरोध प्रदर्शन के बीच सरकार ने गुरुवार को साल 2022 के लिए इस प्रक्रिया के तहत भर्ती की उम्र पूर्व में घोषित 21 साल से बढ़ाकर 23 साल की है। इससे पहले, सरकार ने मंगलवार को अग्निपथ योजना की घोषणा करते हुए कहा था कि सभी नयी भर्तियों के लिए आयु साढ़े 17 से 21 वर्ष के बीच होनी चाहिए.

Agnipath Scheme Protest: रक्षा मंत्रालय के एक प्रवक्ता ने कहा, ‘‘इस तथ्य को ध्यान में रखते हुए कि पिछले दो वर्षों के दौरान भर्ती करना संभव नहीं हुआ, सरकार ने फैसला किया है कि 2022 के लिए प्रस्तावित भर्ती प्रक्रिया के लिए एक बार (आयु सीमा में) छूट दी जाएगी.’’

विश्व रक्तदान दिवस, संत रामपाल जी के शिष्यों ने किया 1000 यूनिट रक्तदान

बीजेपी विधायक के घर हुई तोड़फोड़

Agnipath Scheme Protest: बीजेपी के एक विधायक के छपरा स्थित घर में प्रदर्शनकारियों ने तोड़फोड़ की जबकि नवादा में पथराव की घटना में एक अन्य महिला विधायक घायल हो गईं। जहां पार्टी कार्यालय को भी आग के हवाले कर दिया गया है। नवादा के वारिसलीगंज विधानसभा क्षेत्र से भाजपा विधायक अरुणा देवी एक मामले के सिलसिले में जिला अदालत परिसर जा रही थीं। उनकी कार को प्रदर्शनकारियों ने रेलवे क्रॉसिंग के पास घेर लिया और पथराव किया जिससे उन्हें, उनके वाहन चालक, दो सुरक्षा कर्मियों और कई निजी कर्मचारियों को चोटें आईं।

यह सरकार ना रोजगार सृजित कर पा रही है, ना विभिन्न विभागों में नियमित नौकरी के अवसर दे पा रही है, ना महँगाई कम कर पा रही है और ना ही अर्थव्यवस्था दुरुस्त कर पा रही है!

यह सरकार बस नौकरी खा रही है, देश में आग लगा रही है और बिना सोची समझी योजनाओं से हर वर्ग को सता रही है!

REET 2022 Registration Last Date: फिर बढ़ी आवेदन की लास्ट डेट, अब 5 जून तक करें सकेंगे रजिस्ट्रेशन

Leave a Reply

You May Also Like

Sant Rampal Ji Maharaj Naam Diksha: संत रामपाल जी महाराज से नाम दीक्षा कैसे ले सकते हैं?

Table of Contents Hide Sant Rampal Ji Maharaj Naam Diksha: नामदीक्षा लेना…

Rishi Parashara : पाराशर ऋषि ने अपनी पुत्री के साथ किया संभोग

पाराशर ऋषि भगवान शिव के अनन्य उपासक थे। उन्हें अपनी मां से पता चला कि उनके पिता तथा भाइयों का राक्षसों ने वध कर दिया। उस समय पाराशर गर्भ में थे। उन्हें यह भी बताया गया कि यह सब विश्वामित्र के श्राप के कारण ही राक्षसों ने किया। तब तो वह आग बबूला हो उठे। अपने पिता तथा भाइयों के यूं किए वध का बदला लेने का निश्चय कर लिया। इसके लिए भगवान शिव से प्रार्थना कर आशीर्वाद भी मांग लिया।

Marne Ke Baad Kya Hota Hai: स्वर्ग के बाद इस लोक में जाती है आत्मा!

Table of Contents Hide Marne Ke Baad Kya Hota Hai : मौत…

Kalyug Ka Ant : कलयुग के अंत में क्या होगा?

Table of Contents Hide Kalyug Ka Ant: वर्तमान में कलयुग कितना बीत…