PM Kisan Yojana

PM Kisan Yojana: देश के करोड़ों किसानों के लिए बड़ी खुशखबरी पीएम मोदी ने 1 जनवरी, शनिवार को पीएम किसान सम्मान निधि योजना (PM Kisan Yojana) की 10वीं किस्त जारी कर दी। इसके तहत किसानों के खाते में 2 हजार रुपये की किस्त आई। इस योजना के तहत 10 करोड़ से अधिक लाभार्थी किसान परिवारों को 20 हजार करोड़ रुपये से अधिक की राशि सीधे उनके अकाउंट में ट्रांसफर की।

PM Kisan Yojana: मुख्य बिंदु



1 जनवरी, 2022 को प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि (PM Kisan Yojana) की 10वीं किस्त का पैसा सीधा किसानों के खाते में ट्रांसफर कर दिया गया है।
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को 10.09 करोड़ किसानों को पीएम-किसान योजना के तहत 20,900 करोड़ रुपये की 10वीं किस्त जारी की है।
प्रधानमंत्री ने वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिये आयोजित कार्यक्रम में लाभार्थियों को यह राशि जारी की।
किसानों को यह राशि 2,000 रुपये की तीन समान किस्तों में उनके बैंक खाते में ट्रांसफर की जाती है।
प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि स्कीम (PM Kisan Scheme) के तहत पात्र किसानों को एक साल में 6,000 रुपये की आर्थिक सहायता उपलब्ध कराई जाती है।


PM Kisan Yojana से 1.24 लाख किसानों को होगा फायदा


शनिवार को पीएम मोदी ने वर्चुअल कार्यक्रम में 351 कृषक उत्पादक संगठनों (FPO) को 14 करोड़ रुपये से अधिक का इक्विटी अनुदान जारी किया है। इससे 1.24 लाख किसानों को फायदा होगा। इस कार्यक्रम में नौ राज्यों के मुख्यमंत्री, विभिन्न राज्यों के मंत्री और कृषि संस्थानों के प्रतिनिधि भी वर्चुअल तरीके से शामिल हुए।


PM Kisan Yojana प्रधानमंत्री ने पीएम किसान सम्मान निधि की 10वीं किस्त की जारी


PM Kisan Yojana: पीएम किसान योजना की 10वीं किस्त हुई जारी, जानिए किस विधि से संपन्न होंगे हमारे किसान
News

देश के करोड़ों किसानों के लिए बड़ी खुशखबरी पीएम मोदी ने 1 जनवरी, शनिवार को पीएम किसान सम्मान निधि योजना (PM Kisan Yojana) की 10वीं किस्त जारी कर दी। इसके तहत किसानों के खाते में 2 हजार रुपये की किस्त आई। इस योजना के तहत 10 करोड़ से अधिक लाभार्थी किसान परिवारों को 20 हजार करोड़ रुपये से अधिक की राशि सीधे उनके अकाउंट में ट्रांसफर की गई।

इन नंबरों पर शिकायत दर्ज करें 


पीएम किसान टोल फ्री नंबर: 18001155266
पीएम किसान हेल्पलाइन नंबर: 155261
पीएम किसान लैंडलाइन नंबर्स: 011—23381092, 23382401
पीएम किसान की नई हेल्पलाइन: 011-24300606
पीएम किसान की एक और हेल्पलाइन है: 0120-6025109
ई-मेल आईडी: pmkisan-ict@gov.in


PM Kisan Yojana: लिस्ट में ऐसे चेक करें अपना नाम


स्टेप-1: वेबसाइट pmkisan.gov.in पर जाएं।
स्टेप-2: होम पेज पर Menu बार देखें और यहां ‘Farmers Corner’ पर जाएं।
स्टेप-3:यहां ‘लाभार्थी सूची’ (Beneficiary List) के लिंक पर क्लिक करें।
स्टेप-4:इसके बाद अपना राज्य, जिला, उप-जिला, ब्लॉक और गांव विवरण दर्ज करें।
स्टेप-5:इतना भरने के बाद Get Report पर क्लिक करें और पाएं पूरी लिस्ट।
PM Kisan Yojana के तहत कब कब हुई किस्तें जारी?
पहली किस्त सरकार की तरफ से फरवरी 2019 में जारी की गई थी।
दूसरी किस्त 2 अप्रैल 2019 को जारी हुई थी।
तीसरी किस्त अगस्त 2019 में जारी हुई थी।
चौथी किस्त जनवरी 2020 में जारी की गई थी।
पांचवीं किस्त 1 अप्रैल 2020 को जारी की गई थी।
छठी किस्त 1 अगस्त 2020 को जारी की गई थी।
सातवीं किस्त दिसंबर 2020 में जारी की गई थी।
आठवीं किस्त 14 मई 2021 को जारी की गई थी।
नवीं किस्त 9 अगस्त 2021 को जारी की गई थी।
दसवीं किस्त आज यानी 1 जनवरी 2022 को जारी की गई जिसमें नए साल 2022 के पहले दिन 10.09 करोड़ किसानों के खातों में 20,900 करोड़ रुपये ।


PM Kisan Yojana पर कृषि मंत्री तोमर का बयान


कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने कहा कि नए साल 2022 के पहले दिन 10.09 करोड़ लाभार्थियों के खातों में 20,900 करोड़ (20,946,77,28,000) रुपये की राशि ट्रांसफर की गई है। उन्होंने कहा कि पीएम-किसान कार्यक्रम सरकार के किसानों की आमदनी को दोगुना करने के प्रयासों में मदद करने के लिए शुरू किया गया है।

PM Kisan Yojana: दसवीं किस्त का किसान भाई कर रहे थे इंतजार


पीएम किसान योजना (PM Kisan Yojana) के तहत दी जाने वाली 10वीं किस्त का इंतजार आखिरकार खत्म हो ही गया। किसानों को लंबे समय से खाते में 2 हजार रुपये आने का इंतजार था। पहले कहा जा रहा था कि किसानों के खाते में 15 दिसंबर को रुपये आएंगे। फिर बताया गया कि पिछले साल की तरह 25 दिसंबर को किसानों को सम्मान निधि का लाभ मिलेगा। हालांकि, दोनों बार किसानों को निराश होना पड़ा, लेकिन 31 दिसंबर को पीएम मोदी ने ट्वीट कर नए साल के मौके पर किसानों के खाते में रुपये भेजने का ऐलान किया।

PM Kisan Yojana: किसानों को कुल 1.8 लाख करोड़ रुपये किए जा चुके हैं ट्रांसफर


इससे पहले पीएम-किसान की नौवीं किस्त अगस्त, 2021 में जारी की गई थी। आज जारी राशि के बाद अब तक इस योजना के तहत किसानों को 1.8 लाख करोड़ रुपये उपलब्ध कराए जा चुके हैं। पीएम-किसान योजना की घोषणा फरवरी, 2019 के बजट में की गई थी। इसके तहत पहली किस्त दिसंबर, 2018 से मार्च, 2019 की अवधि के लिए जारी की गई थी।

PM Kisan Yojana: भारत में किसे माना जाता है किसान?


राष्ट्रीय किसान नीति-2007 के अनुसार ‘किसान’ शब्द का मतलब उगाई गई फसलों के आर्थिक या आजीविका क्रियाकलाप में सक्रिय रूप से शामिल व्यक्ति तथा अन्य प्राथमिक कृषि उत्पादों को उगाने वाले व्यक्ति से है। इसमें काश्तकार, कृषि श्रमिक, बटाईदार, पट्टेदार, पशुपालक, मधुमक्खी पालक, माली, चरवाहे आते हैं। रेशम के कीड़ों का पालन करने वाले, वर्मीकल्चर तथा कृषि-वानिकी जैसे विभिन्न कृषि-संबंधी व्यवसायों से जुड़े व्यक्ति भी किसान हैं। इन लोगों को किसानों की श्रेणी में रखा गया है।

PM Kisan Yojana क्या है?


प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि स्कीम (PM Kisan Scheme) के तहत पात्र किसानों को एक साल में 6,000 रुपये की आर्थिक सहायता उपलब्ध कराई जाती है। किसानों को यह राशि 2,000 रुपये की तीन समान किस्तों में उनके बैंक खाते में ट्रांसफर करके दी जाती है ।

पीएम किसान योजना की शुरुआत कब हुई?
पीएम मोदी ने इस योजना की औपचारिक रूप से शुरुआत 24 फरवरी, 2019 को यूपी के गोरखपुर में एक समारोह में की थी।

PM Kisan Yojana: कौन पीएम किसान योजना का लाभ नही ले सकते?


डॉक्टर, सीए, वकील आदि भी इस योजना से बाहर हैं। पीएम किसान सम्मान स्कीम का लाभ अब उन्हीं किसानों को मिलेगा, जिनके नाम पर खेत होगा। मौजूदा या पूर्व सांसद, विधायक, मंत्री को पीएम किसान योजना का लाभ नहीं मिलता। अगर कोई व्यक्ति खेत का मालिक है, लेकिन उसे 10000 रुपये महीने से अधिक पेंशन मिलती है तो वह भी इस योजना का पात्र नहीं है।

PM Kisan Yojana: किनहे पीएम किसान सम्मान निधि का लाभ?


किसान जो भूतपूर्व या वर्तमान में संवैधानिक पद धारक हैं, वर्तमान या पूर्व मंत्री हैं। मेयर या जिला पंचायत अध्यक्ष, विधायक (MLA), एमएलसी, लोकसभा और राज्यसभा सांसद हैं, भले ही वो किसानी भी करते हों वे और केंद्र या राज्य सरकार के अधिकारी इससे बाहर रहेंगे। इसके साथ पिछले वित्तीय वर्ष में आयकर भुगतान करने वाले किसानों को भी इसका फायदा नहीं मिलेगा। 10 हजार रुपये से अधिक पेंशन पाने वाले किसानों को भी लाभ नहीं मिलेगा। पेशेवर, डॉक्टर, इंजीनियर, सीए, वकील और आर्किटेक्ट योजना से बाहर होंगे।

PM Kisan Yojana: किन किसानों के खाते में नहीं आएगी10वीं किस्त?


PM Kisan Samman Nidhi 10th Installment, पीएम किसान सम्मान निधि स्कीम के तहत 1 जनवरी 2022 को जारी हुई 10 वीं किस्त की रकम लाखों किसानों के खाते में ट्रांसफर नहीं होगी। दरअसल, आयकरदाताओं को इस स्कीम का पैसा न दिए जाने का प्रावधान है। अगर किसी किसान ने पिछले वित्तीय वर्ष में इनकम टैक्स दिया है तो वह अप्लाई नहीं कर सकता। लेकिन ऐसे लाखों लोगों ने आवेदन किया था। आधार (Aadhaar) कार्ड के जरिए ऐसे लोगों को चिन्हित किया गया। अब उनसे पैसा वापस लिया जा रहा है। सबसे ज्यादा उन्हीं किसानों ने गड़बड़ी की जो इनकम टैक्स देते हैं। अवैध रूप से इस स्कीम का फायदा लेने वालों में से 56 फीसदी आयकरदाता हैं और यह स्कीम केवल गरीब किसानों के लिए है।

ये भी पढ़ें – दुनिया भर में छाई है हमारी हिंदी, जानें इससे जुड़ी खास बातें

PM Kisan Yojana: किन किसानों के लिए है उपयोगी?


छोटे किसानों के लिए यह योजना अत्यन्त उपयोगी सिद्ध हुई है। बुवाई से ठीक पहले नगदी संकट से जूझने वाले किसानों को इस नगदी से बीज, खाद और अन्य वस्तुओं की उपलब्धता में सुविधा हो रही है। इन छोटे किसानों में ज्यादातर सीमान्त हैं, जिनका खेती से पेट भरना मुश्किल है। लेकिन इस योजना के आने के बाद किसान इसका लाभ ले कर काफी खुश हैं।

Leave a Reply

You May Also Like

Rishi Parashara : पाराशर ऋषि ने अपनी पुत्री के साथ किया संभोग

पाराशर ऋषि भगवान शिव के अनन्य उपासक थे। उन्हें अपनी मां से पता चला कि उनके पिता तथा भाइयों का राक्षसों ने वध कर दिया। उस समय पाराशर गर्भ में थे। उन्हें यह भी बताया गया कि यह सब विश्वामित्र के श्राप के कारण ही राक्षसों ने किया। तब तो वह आग बबूला हो उठे। अपने पिता तथा भाइयों के यूं किए वध का बदला लेने का निश्चय कर लिया। इसके लिए भगवान शिव से प्रार्थना कर आशीर्वाद भी मांग लिया।

Sant Rampal Ji Maharaj Naam Diksha: संत रामपाल जी महाराज से नाम दीक्षा कैसे ले सकते हैं?

Table of Contents Hide Sant Rampal Ji Maharaj Naam Diksha: नामदीक्षा लेना…

Ranbir Alia Wedding: कपूर खानदान की बहू बनीं आलिया भट्ट, तस्वीरें वायरल

Table of Contents Hide शादी से पहली फोटो आई सामनेआलिया ने शेयर…

Mirabai Story in Hindi: मीरा बाई की जीवनी, मीरा बाई की मृत्यु कैसे हुई

Mirabai Story in Hindi: कृष्ण भक्ति में लीन रहने वाली मीराबाई को राजस्थान में सब जानते ही होंगे। आज हम जानेंगे कि मीराबाई का जन्म कब और कहां हुआ? {Mirabai Story in Hindi} मीराबाई के गुरु कौन थे? कृष्ण भक्ति से क्या लाभ मिला? मीराबाई ने अपने जीवन में बहुत संघर्ष किया। गुरु बनाना क्यों आवश्यक है? आइए जानते हैं।