Rajasthan Covid Guidelines 2021
Rajasthan Covid Guidelines 2021

Rajasthan Covid Guidelines 2021: 10वीं और 12वीं की परीक्षाएं भी की गई स्थगित।

Rajasthan Covid Guidelines 2021: राजस्थान में कोरोनावायरस के केसों में लगातार बढ़ोतरी देखी जा रही है जिसको देखते हुए सरकार ने नई गाइडलाइन जारी की हैं जिसमें विद्यालय फिर से बंद कर दिए गए हैं।10वीं और 12वीं की परीक्षाएं भी स्थगित की गई हैं। 12वीं तक की परीक्षाएं स्थगित और विद्यार्थियों को प्रमोट किया जा सकता हैं।
ऐसे में हालात बहुत ज्यादा नाजुक हो रहे हैं सावधानी बहुत जरूरी हैं।

राजस्थान के सभी जिलों में नाइट कर्फ्यू रात 6:00 बजे से सुबह 5:00 बजे तक लगाया गया हैं। इस समय के दौरान सभी दुकानें बंद हो जाती हैं कोई भी व्यक्ति बाहर नहीं निकल सकता। सभी व्यक्तियों को मास्क पहनने की सख्त हिदायत दी जा रही हैं मास्क नहीं पहनने पर ₹500 का चालान लगाया जाएगा।

नई गाइडलाइन 2021 डाउनलोड करें पीडीएफ़ [PDF]

Rajasthan Covid Guidelines 2021: नई गाइडलाइन्स में निम्नलिखित निर्देश भी जारी किए गए हैंः-

Rajasthan Covid Guidelines 2021: राज्य सरकार ने प्रदेश में कोविड-19 महामारी के संक्रमण की दूसरी लहर को बढ़ने से रोकने के लिए विभिन्न बाजार, कार्यस्थल, व्यवसायिक निजी व सार्वजनिक गतिविधियों आदि के लिए प्रतिबंधात्मक उपायों में अधिक कड़ाई करने का निर्णय लिया हैं।

  • Rajasthan Covid Guidelines 2021 के तहत 16 अप्रैल से 30 अप्रैल तक पूरे राज्य में सायं 6:00 बजे से सुबह 5:00 बजे तक रात्रि कर्फ्यू रहेगा। कर्फ्यू की प्रभावी अनुपालना के क्रम में बाजार में व्यवसायिक प्रतिष्ठान भी शाम 5:00 बजे तथा सरकारी कार्यालय शाम 4:00 बजे तक बंद हो जाएंगे।
  • Rajasthan Covid Guidelines 2021: यह समय अवधि अनिवार्य आपातकालीन व स्वास्थ्य सेवाओं कोविड-19 से संबंधित राजकीय कार्यालयों, निरंतर उत्पाद तथा रात्रि कालीन शिफ्ट वाली फैक्ट्रियों, दवा की दुकानें, आईटी कंपनियां, विवाह समारोहों, बस रेलवे और अन्य एयरपोर्ट से आने जाने वाले यात्री गण, माल परिवहन
  • Rajasthan Covid Guidelines 2021 ग्रामीण क्षेत्रों में भी प्रतिबंधात्मक दिशा-निर्देशों तथा कोविड-19 प्रोटोकॉल के अनुपालन के लिए पूर्व में ही आपदा प्रबंधन विभाग द्वारा गठित ग्राम पंचायत स्तरीय कोर ग्रुप को भी एक्टिवेट किया जाएगा।
  • Rajasthan Covid Guidelines 2021: राजस्थान में 16 अप्रैल से 30 मई तक विवाह आदि निजी आयोजनों में भी आमंत्रित अतिथियों की संख्या 50 से अधिक नहीं होनी चाहिए। इसके लिए उपखंड मजिस्ट्रेट को पूर्व में ही सूचना देना आवश्यक होगा।
  • Rajasthan Covid Guidelines 2021: फसल खरीद केंद्रों में कृषि मंडलों से कृषि का क्रय विक्रय के दौरान कोविड-19 का पालन सुनिश्चित किया जाएगा। रेस्टोरेंट से होम डिलीवरी रात्रि 8:00 बजे तक तथा होटल में “इन हाउस” गेस्ट सर्विस की अनुमति होगी।
  • Rajasthan Covid Guidelines 2021: के तहत ग्रामीण व शहरी क्षेत्रों में धार्मिक मेलों, उत्सवों, जुलूस आदि पर भी रोक रहेगी।
    समस्त शैक्षणिक व कोचिंग संस्थाएं तथा लाइब्रेरी आदि भी बंद रहेंगे।
  • Rajasthan Covid Guidelines 2021: के तहत 10वीं तथा 12वीं की परीक्षाओं व प्रायोगिक परीक्षाओं से संबंधित गतिविधियों पर भी रोक रहेगी।

Also Read : जलियांवाला बाग हत्याकांड: नरसंहार के 101 साल

Video Credit : Rajasthan Patrika

1 comment
Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You May Also Like

Sant Rampal Ji Maharaj Naam Diksha: संत रामपाल जी महाराज से नाम दीक्षा कैसे ले सकते हैं?

Table of Contents Hide Sant Rampal Ji Maharaj Naam Diksha: नामदीक्षा लेना…

Rishi Parashara : पाराशर ऋषि ने अपनी पुत्री के साथ किया संभोग

पाराशर ऋषि भगवान शिव के अनन्य उपासक थे। उन्हें अपनी मां से पता चला कि उनके पिता तथा भाइयों का राक्षसों ने वध कर दिया। उस समय पाराशर गर्भ में थे। उन्हें यह भी बताया गया कि यह सब विश्वामित्र के श्राप के कारण ही राक्षसों ने किया। तब तो वह आग बबूला हो उठे। अपने पिता तथा भाइयों के यूं किए वध का बदला लेने का निश्चय कर लिया। इसके लिए भगवान शिव से प्रार्थना कर आशीर्वाद भी मांग लिया।

Mirabai Story in Hindi: मीरा बाई की जीवनी, मीरा बाई की मृत्यु कैसे हुई

Mirabai Story in Hindi: कृष्ण भक्ति में लीन रहने वाली मीराबाई को राजस्थान में सब जानते ही होंगे। आज हम जानेंगे कि मीराबाई का जन्म कब और कहां हुआ? {Mirabai Story in Hindi} मीराबाई के गुरु कौन थे? कृष्ण भक्ति से क्या लाभ मिला? मीराबाई ने अपने जीवन में बहुत संघर्ष किया। गुरु बनाना क्यों आवश्यक है? आइए जानते हैं।

World Animal Day: अंतर्राष्ट्रीय पशु दिवस कब और क्यों मनाया जाता है क्या है इसका इतिहास।

Table of Contents Hide World Animal Day: अंतर्राष्ट्रीय पशु दिवस कब मनाया…